Tuesday, June 22, 2021

IIT ग्रेजुएट तेजस्वी ने दूसरी प्रयास में पास की UPSC परीक्षा, बनीं IAS

यूपीएससी परीक्षा हमारे देश के सबसे महत्वपूर्ण परीक्षाओं में से एक है। इस परीक्षा को पास करने के लिए अपने अंदर जुनून होना आवश्यक है। अगर मन में जज्बा हो हौसला हो और कुछ कर जाने की चाह हो तो कोई भी समस्या सफलता से नहीं रोक सकती। ऐसे ही एक हैं तेजस्वी राणा जिन्होंने आईआईटी करने के बाद यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की और दुसरे अटेम्प्ट में सफलता हासिल कि।

अपनी शुरुआती पढ़ाई कुरुक्षेत्र के DAV माध्यमिक विद्यालय से की है

तेजस्वी राणा हरियाणा के कुरुक्षेत्र के रहने वाले हैं। इन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई कुरुक्षेत्र के डी ए बी माध्यमिक विद्यालय से की। तेजस्वी राणा बारहवी परीक्षा पास कर लेने के बाद जेईई परीक्षा दी। जिसमे वो सफल हुई। जिसके बाद इन्होंने आईआईटी कानपुर से बीएससी इकोनॉमिक्स से ग्रेजुएशन किया। तेजस्वी राणा के पिता प्रो. कुलदीप राणा कुवि में अर्थशास्त्र विभाग में प्रोफेसर हैं। और माता डॉ. सुनीता राणा यूनिवर्सिटी कॉलेज में कॉमर्स की प्रोफेसर हैं। तेजस्वी राणा अपने इंजीनियरिग कि पढ़ाई खत्म होने के बाद यूपीएससी की तैयारी करने का फैसला लिया। वे बताते हैं कि हमारे कॉलेज के कार्यक्रम में आईएएस अधिकारी आते रहते थे। उनकी बातों को सुनकर और उनके यह निर्णय लेने की क्षमता मुझे भी यूपीएससी की तैयारी करने पर मजबूर कर दिया। और मैंने भी ठान लिया कि मै भी इस परीक्षा कि तैयारी करूंगी।

IAS Tejasvi 4

दूसरी प्रयास में UPSC में 12वां रैंक हासिल किया

तेजस्वी राणा ने साल 2015 में पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी। लेकिन उस समय अच्छे से तैयारी ना होने की वजह से वह मेंस परीक्षा पास नहीं कर पाई। लेकिन इन्होंने हिम्मत नहीं हारी और अपने अंदर जज्बे को बनाए रखा और फिर से तैयारी में जुट गई। तेजस्वी राणा ने बिना कोचिंग किए हुए हुए सिर्फ घर पे पढ़ाई की और अपने मां- पापा से गाइडेंस लेती रही। फिर दूसरी बार तेजस्वी राणा ने फिर से यूपीएससी परीक्षा दी और इसमें सिर्फ पास ही नहीं हुई बल्कि 12 वां रैंक हासिल किया।

यह भी पढ़ें: लाखों का है फायदा, दिव्या रावत से आप भी सीखें मशरूम की खेती का तरीका

IAS Tejasvi 2

UPSC के कुछ महत्वपूर्ण टिप्स शेयर करती तेजस्वी

तेजस्वी कहती हैं कि यूपीएससी की तैयारी करने के लिए सबसे खास चीज सिलेबस है। सबसे पहले सिलेबस को ठीक से देखें और उसे कहीं लिख लें जिससे उसे बार बार दोहराते रहें। और इसके अलावा बेसिक्स किताबों को पढ़ना बहुत ही आवश्यक है। इसलिए एनसीईआरटी के किताबों से तैयारी करें और क्लास 9 से 12 की एनसीईआरटी किताब को जरूर पढ़े। उसके बाद ही बड़े लेवल के किताबों पर ध्यान दें।

IAS Tejasvi

कैंडिडेट को सही विषयो का चुनाव करने का सलाह देती है टॉपर तेजस्वी

वे बताती है कि ऑप्शनल का चुनाव किसी कैंडिडेट के लिए काफी जरूरी होता है। तो इसे सोच- समझकर ही चुने। आप ऐसा ही विषय को चुने जिसे आप सालभर तक पढ़ सकें। क्यूंकि कोई भी विषय पसंद का ना हो तो उसे काफी लंबे समय तक नहीं पढ़ा का सकता। और आप जो विषय चुन रहे हैं तो ये देख लें कि वो विषय की की किताबें उपलब्ध है या नहीं। फिर ट्रेंड या स्कोरिंग पे जाएं।

यह भी पढ़ें: IIT के बाद नौकरी छोड़ तैयारी शुरू किए, पहले ही प्रयास में UPSC निकाल मयूर बने IAS

IAS Tejasvi 1

सच्ची लगन और मेहनत से ही हम इस परीक्षा को पास कर सकते है।

वे बताती हैं कि इस परीक्षा की तैयारी करने के लिए सिर्फ पढ़ने से कुछ नहीं होता जब तक उत्तर लिखकर नहीं देखेंगे। जब प्रिपरेशन अच्छी तरह से हो जाय तो उत्तर को लिखकर देखें जिससे पता चलता है कि कमी है और जहां कमी हो उसे फिर से तैयारी करें और अभ्यास करते रहें। इसके अलावा पिछले सालों के प्रश्नों को देखें। और उस हल करें। इससे परीक्षा में काफी मदद मिलती है। इसी प्रकार टेस्ट सीरीज पर ध्यान दें। और अभ्यास जरूर करते रहें। तेजस्वी कहते हैं कि परीक्षा कठिन नहीं है पर इसे पास करने में जो समय लगता है वह कठिन होता है।

देखें वीडियो

सबसे लोकप्रिय